सड़क कनेक्टिविटी के मामले में उधमपुर जिला देश के शीर्ष तीन जिलों में शामिल

सड़क कनेक्टिविटी के मामले में उधमपुर जिला देश के शीर्ष तीन जिलों में शामिल

उधमपुर-केन्द्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. जितेंद्र सिंह ने आज प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना (पीएमजीएसवाई) के तहत उधमपुर (जम्मू एवं कश्मीर) में बनाई जा रही विभिन्न महत्वपूर्ण सड़क परियोजनाओं का शिलान्यास किया।

इस अवसर पर, उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना (पीएमजीएसवाई) ने उधमपुर जिले में सड़क कनेक्टिविटी के मामले में क्रांति ला दी है। इसके माध्यम से इस जिले ने देश में एक महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल की है। यह जिला सड़क कनेक्टिविटी के मामले में देश के शीर्ष तीन जिलों में से एक बन गया है। उन्होंने कहा कि दुदू बसंतगढ़, लाटी धुना और कई अन्य दूर-दराज के क्षेत्र कुछ ऐसे उपेक्षित प्रखंड व क्षेत्र हैं जो सालों भर आवागमन योग्य सड़कों से जुड़ रहे हैं। डॉ. जितेंद्र सिंह ने बताया कि उधमपुर जिले के सुध महादेव और डोडा जिले के खिलानी के बीच एक राजमार्ग का निर्माण किया जा रहा है। 

केन्द्रीय मंत्री ने सड़क परिवहन के क्षेत्र में काम की सराहना करते हुए कहा कि कनेक्टिविटी देश के समग्र विकास की रीढ़ है। उन्होंने कहा कि उधमपुर और इसके आसपास के जिलों की सड़कों ने इस क्षेत्र को राष्ट्रीय स्तर पर पर्यटन के मानचित्र पर ला दिया है। उन्होंने कहा, विशेष रूप से सुध महादेव मंदिर के संदर्भ में, धार्मिक तीर्थयात्रा का दायरा पिछले 70 वर्षों के दौरान अनजाना रहा और वर्तमान सरकार ने सड़क नेटवर्क को बढ़ाकर ऐसे सभी रास्तों को सफलतापूर्वक खोजा है। डॉ. सिंह ने कहा कि इन योजनाओं से इस क्षेत्र, विशेषकर उधमपुर जिले की अर्थव्यवस्था में तेजी आई है। उन्होंने जिला प्रशासन तथा पीएमजीएसवाई को कार्यान्वित करने वाले अधिकारियों की सराहना की और कहा कि वे सभी समाज सेवा कर रहे हैं एवं देश के विकास के लक्ष्य को हासिल करने में अपनी भूमिका निभा रहे हैं क्योंकि सड़क कनेक्टिविटी शिक्षा, स्वास्थ्य, सामाजिक कल्याण और महिला सशक्तिकरण से जुड़ी विभिन्न योजनाओं के प्रभावी कार्यान्वन में सहायक है।

कार्यक्रम के दौरान, लगभग 693.80 लाख रुपये की लागत से उधमपुर जिले के कुलवंता प्रखंड में टी-01 पडरका से छतारी तक की सड़क के उन्नयन के लिए ई-शिलान्यास किया गया। इस सड़क की लंबाई 4.6 किलोमीटर है और यह हजारों निवासियों को आवागमन की सुविधा प्रदान करती है। उधमपुर जिले के उधमपुर प्रखंड में टी-16 चोपड़ा शॉप से ​​सुनारी कंबल डांगा तक की सड़क के उन्नयन के लिए एक और ई-शिलान्यास किया गया। उन्नयन की इस परियोजना की अनुमानित लागत 1751.23 लाख रुपये है और इस सड़क की लंबाई 12.925 किलोमीटर है। केन्द्रीय मंत्री ने उधमपुर जिले के टिकरी प्रखंड में 1269.25 लाख रुपये की अनुमानित लागत से टी-02 टिकरी से सूखा तालाब होते हुए चरयी तक की 9.650 किलोमीटर लंबी सड़क के उन्नयन कार्य का भी ई-शिलान्यास किया।

Latest News

 प्रधानमंत्री ने 300 मेगावाट भुज-II सौर ऊर्जा परियोजना की रखी आधारशिला प्रधानमंत्री ने 300 मेगावाट भुज-II सौर ऊर्जा परियोजना की रखी आधारशिला
राजकोट-प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज गुजरात के राजकोट में 48,100 करोड़ रुपये से भी अधिक की कई विकास परियोजनाओं को...
चौबीस घंटे नवीकरणीय ऊर्जा प्रदान करने के लिए बैटरी ऊर्जा भंडारण प्रणाली की तैनाती तंत्र को अंतिम रूप
देश का सबसे लंबा केबल-आधारित पुल राष्ट्र को समर्पित
एसईसीआई ने भारत की सबसे बड़ी सौर-बैटरी परियोजना को परिचालित किया
प्रधानमंत्री ने 1600 मेगावाट के सुपर थर्मल पॉवर स्टेशन स्टेज–वन को राष्ट्र को समर्पित किया
एनटीपीसी नवीकरणीय रिन्यूएबल एनर्जी लिमिटेड की पहली सौर परियोजना का परिचालन कार्य प्रारंभ हुआ
ग्रिड-इंडिया ने जीओ15 बैठक की मेजबानी की
एसजेवीएन ने उत्तर प्रदेश में 50 मेगावाट के गुजराई सौर ऊर्जा स्टेशन चालू किया
एनटीपीसी के 1,600 मेगावाट के लारा सुपर थर्मल पावर स्टेशन के प्रथम-चरण का होगा शुभारम्भ
प्रधानमंत्री करेंगे फर्स्ट माइल कनेक्टिविटी परियोजनाओं का उद्घाटन