बीसीजीसीएल ने अपनी पहली कोयला गैसीकरण परियोजना के लिए पहली बोली-पूर्व बैठक आयोजित की

बीसीजीसीएल ने अपनी पहली कोयला गैसीकरण परियोजना के लिए पहली बोली-पूर्व बैठक आयोजित की

नई दिल्ली-भारत कोल गैसीफिकेशन एंड केमिकल्स लिमिटेड (बीसीजीसीएल) ने अपनी पहली कोयला गैसीकरण परियोजना के लिए अपनी पहली बोली-पूर्व बैठक 1 जुलाई को नोएडा में आयोजित की। इस बैठक में 8 संभावित बोलीदाताओं के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। इस बोली-पूर्व बैठक ने व्यापक चर्चाओं, स्पष्टीकरण, सहयोग के अवसरों, और परियोजना के बारे में आवश्यक जानकारियां उपलब्‍ध कराने के लिए एक उपयुक्‍त प्‍लेटफॉर्म या मंच प्रदान किया।

कोयला मंत्रालय के रणनीतिक निर्देश के तहत बीसीजीसीएल ने तीन एकमुश्त टर्नकी (एलएसटीके) पैकेजों के लिए निविदाएं जारी की थीं - 30 मई को एलएसटीके-2, और 14 जून को एलएसटीके-3 और एलएसटीके-4। इन निविदाओं का उद्देश्य विस्तृत व्यवहार्यता रिपोर्ट (डीएफआर) को अंतिम रूप देना है जो कि परियोजना की प्रगति के बारे में जानने के लिए अत्‍यंत आवश्यक है।

सरकार ने निवेश और कोल इंडिया लिमिटेड एवं भेल के बीच संयुक्त उद्यम कंपनी के गठन को मंजूरी दे दी है जिसमें कोल इंडिया लिमिटेड की 51% हिस्सेदारी है। तदनुसार, कोल इंडिया लिमिटेड की एक सहायक कंपनी बीसीजीसीएल का गठन किया गया है ताकि कोयले से रसायन तैयार करने का कार्य आगे बढ़ाया जा सके।

बीसीजीसीएल भारत में अपनी पहली कोयला गैसीकरण परियोजना की दिशा में निरंतर व्‍यापक प्रगति कर रही है। ओडिशा में महानदी कोलफील्ड्स लिमिटेड (एमसीएल) के लखनपुर क्षेत्र में स्थापित की जाने वाली इस परियोजना ने हाल ही में निविदाएं जारी करने के साथ ही महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल कर ली है।

Latest News

बाईमेटेलिक नाइफ प्रणालियां पानी के विभाजन के लिए डोप की गई प्रणालियों से बेहतर बाईमेटेलिक नाइफ प्रणालियां पानी के विभाजन के लिए डोप की गई प्रणालियों से बेहतर
नयी दिल्ली-एक नए अध्ययन के अनुसार एक द्विधातु (बाईमेटेलिक) निकल आयरन परतदार डबल हाइड्रॉक्साइड प्रणाली पानी के विभाजन के माध्यम...
नेट-जीरो लक्ष्य हासिल करने के लिए भारत के लिए ई-मोबिलिटी आरएंडडी रोडमैप पर रिपोर्ट जारी
बिजली कर्मियों के लिए वित्त मंत्री से पुरानी पेंशन की मांग
उत्तराखंड के लिए शहरी विकास योजनाओं और विद्युत क्षेत्र के परिदृश्य की समीक्षा
कोयला मंत्रालय द्वारा तीन कोयला खदानों के लिए समझौतों पर हस्ताक्षर
46 गाड़ियों में लगाए गए सामान्य श्रेणी के 92 कोच; 22 दूसरी गाड़ियों के भी विस्तार की योजना
छत्तीसगढ़ सरकार से जल विद्युत परियोजनाओं और पंप भंडारण परियोजनाओं पर कोई उपकर नहीं लगाने का अनुरोध
फ्लाई ऐश के निपटान के लिए थर्मल पावर प्लांटों को 19 कोयला खदानें आवंटित की गईं
अरुणाचल प्रदेश में बिजली क्षेत्र की योजनाओं और परियोजनाओं की समीक्षा
कोयला खदानों की वाणिज्यिक नीलामी के 10वें दौर के लिए बोली-पूर्व बैठक आयोजित की