पावरग्रिड ने वित्त वर्ष 2024 में 46,913 करोड़ रुपये की कुल आय अर्जित की

पावरग्रिड ने वित्त वर्ष 2024 में 46,913 करोड़ रुपये की कुल आय अर्जित की

नई दिल्ली- पावर ग्रिड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (पावरग्रिड), जो कि भारत सरकार के विद्युत मंत्रालय के अधीनस्‍थ एक ‘महारत्न’ केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रम है, ने वित्त वर्ष 2024 और इसके साथ ही वित्त वर्ष 2024 की चौथी तिमाही में समाप्त अवधि के लिए अपने वित्तीय परिणामों की घोषणा कर दी है।

कंपनी ने वित्त वर्ष 2024 की चौथी तिमाही में स्टैंडअलोन आधार पर 4,128 करोड़ रुपये का कर पश्चात मुनाफा (पीएटी) कमाया है और 12,254 करोड़ रुपये की कुल आय अर्जित की है। कंपनी ने इस दौरान समेकित आधार पर 4,166 करोड़ रुपये का पीएटी और 12,305 करोड़ रुपये की कुल आय अर्जित की है।

कंपनी ने वित्त वर्ष 2024 में स्टैंडअलोन आधार पर 15,475 करोड़ रुपये का पीएटी कमाया है और 46,215 करोड़ रुपये की कुल आय (बंद किए गए परिचालन सहित) अर्जित की है। कंपनी ने इस दौरान समेकित आधार पर 15,573 करोड़ रुपये का पीएटी कमाया है और 46,913 करोड़ रुपये की कुल आय अर्जित की है।

कंपनी ने वित्त वर्ष 2024 के लिए पहले ही भुगतान कर दिए गए 8.50 रुपये प्रति शेयर के पहले और दूसरे अंतरिम लाभांश के अलावा 27.50% (प्रत्येक 10 रुपये के अंकित मूल्य पर 2.75 रुपये प्रति शेयर) का अंतिम लाभांश प्रस्तावित किया है। अत: वर्ष 2024 के लिए कुल लाभांश 11.25 रुपये प्रति शेयर है जो कि पिछले वर्ष के कुल लाभांश से 1.69% अधिक है, और जिसमें बोनस इश्यू को समायोजित कर दिया गया है।

कंपनी ने वित्त वर्ष 2024 में अपनी सहायक कंपनियों के साथ मिलकर 19,720 एमवीए की रूपांतरण क्षमता, 6 विद्युत उप-केंद्र और 4,036 सर्किट किलोमीटर लंबी ट्रांसमिशन लाइनें जोड़ीं। पावरग्रिड ने अपनी 5 टैरिफ आधारित प्रतिस्पर्धी बोली (टीबीसीबी) सहायक कंपनियों यथा पावरग्रिड रामगढ़ ट्रांसमिशन लिमिटेड, पावरग्रिड बीकानेर ट्रांसमिशन सिस्टम लिमिटेड, पावरग्रिड मेरठ सिंभावली ट्रांसमिशन लिमिटेड, पावरग्रिड गोमती यमुना ट्रांसमिशन लिमिटेड और पावरग्रिड नीमच ट्रांसमिशन सिस्टम लिमिटेड को सफलतापूर्वक चालू कर दिया है।

कंपनी ने वित्त वर्ष 2024 के दौरान समेकित आधार पर 12,500 करोड़ रुपये का पूंजीगत व्यय किया और 7,618 करोड़ रुपये (एफईआरवी को छोड़कर) मूल्‍य की परिसंपत्तियों का पूंजीकरण किया। 31 मार्च, 2024 तक समेकित आधार पर पावरग्रिड की सकल अचल संपत्ति 2,75,991 करोड़ रुपये की थी।

वित्त वर्ष 2024 में टैरिफ आधारित प्रतिस्पर्धी बोली के तहत पावरग्रिड ने लगभग 26,872 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत वाली 10 आईएसटीएस टीबीसीबी सहायक कंपनियों का अधिग्रहण किया है।वित्त वर्ष 2024 के अंत में पावरग्रिड और उसकी सहायक कंपनियों की कुल ट्रांसमिशन संपत्ति 1,77,699 सर्किट किलोमीटर ट्रांसमिशन लाइनें, 278 सबस्टेशन और 5,27,446 एमवीए की रूपांतरण क्षमता थी।पावरग्रिड ने वित्त वर्ष 2024 के दौरान 99.85% की औसत ट्रांसमिशन सिस्टम उपलब्धता बनाए रखी।

Related Posts

Latest News

नरेन्द्र मोदी ने तीसरी बार प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली नरेन्द्र मोदी ने तीसरी बार प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली
नई दिल्ली-एनडीए के नेता नरेन्द्र मोदी ने आज राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक समारोह में लगातार तीसरी बार भारत के...
बिजली इंजीनियरों ने भीषण गर्मी को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग की
तापीय विद्युत संयंत्रों में कोयले का भंडार 45 मीट्रिक टन से अधिक
अप्रैल 2024 में खनन क्षेत्र में वृद्धि
बीसीजीसीएल ने ओडिशा में कोयला गैसीकरण परियोजना के लिए निविदा जारी की
30 मई को 250 गीगावाट की रिकॉर्ड मांग को पूरा किया
ग्रेनाइट और संगमरमर खनन पर कार्यशाला
आरईसी ने 'सस्टेनेबिलिटी चैंपियन - एडिटर्स च्वाइस अवार्ड' जीता
पीएफसी को “सीएसआर चैंपियन अवार्ड”
एनटीपीसी ने नेशनल फिनाले पावर क्विज 2024 और मेधा प्रतियोगिता 2024 आयोजित की