भारतीय रेल के परिवीक्षाधीन अधिकारियों ने राष्ट्रपति से मुलाकात की

भारतीय रेल के परिवीक्षाधीन अधिकारियों ने राष्ट्रपति से मुलाकात की

नई दिल्ली-भारतीय रेल (2018 बैच) के 255 परिवीक्षाधीन अधिकारियों के एक समूह ने आज (14 सितंबर, 2023) राष्ट्रपति भवन सांस्कृतिक केंद्र में राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मु से मुलाकात की।

राष्ट्रपति ने परिवीक्षाधीन अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि भारतीय रेल न केवल भारतीय अर्थव्यवस्था बल्कि भारत की एकता और सामाजिक-सांस्कृतिक विविधता की भी रीढ़ है। उन्होंने इस बात पर बल दिया कि यह उन जैसे युवा अधिकारियों की जिम्मेदारी है कि वे रेलवे इको-सिस्टम की समृद्ध विरासत को आगे बढ़ाएं और भारतीय रेल को विश्व में सर्वोत्तम गुणवत्ता वाली सेवा प्रदाता बनाने का प्रयास करें।T20230914138829

राष्ट्रपति ने कहा कि प्रौद्योगिकी आज सभी क्षेत्रों में प्रेरक शक्ति है। उन्होंने रेखांकित किया कि भारतीय रेल, जो हर दिन लाखों लोगों की आवश्यकताओं और मांगों को पूरा करती है और हर महीने लाखों टन माल का परिवहन करती है, के लिए प्रौद्योगिकी का यथासंभव सर्वोत्तम उपयोग करना आवश्यक है। उन्होंने युवा अधिकारियों से लोक-केन्द्रित और पर्यावरण के अनुकूल परिवहन प्रणाली के लिए नए अनुप्रयोगों और प्रणालियों को तैयार करके देश की प्रौद्योगिकीय उन्नति में एक नया रास्ता तय करने में योगदान देने का आग्रह किया।

राष्ट्रपति ने कहा कि जो लोग रेलगाड़ियों में यात्रा करते हैं वे अपनी यात्रा की यादें अपने साथ संजो कर रखते हैं। उन्होंने अधिकारियों से यात्रियों के साथ अपने अतिथियों के रूप में व्यवहार करने और सर्वोत्तम सेवा तथा सर्वोत्तम अनुभव प्रदान करने का आग्रह किया, जिसे वे संजोकर रख सकें। उन्होंने हर तरह से यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने की आवश्यकता को भी रेखांकित किया। उन्होंने कहा कि उन्नत प्रौद्योगिकी और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस-आधारित-अनुप्रयोगों के साथ, रेल सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए कुशल और फुलप्रूफ सिस्टम डिजाइन किए जाने चाहिए।T20230914138828

Related Posts

Latest News

बाईमेटेलिक नाइफ प्रणालियां पानी के विभाजन के लिए डोप की गई प्रणालियों से बेहतर बाईमेटेलिक नाइफ प्रणालियां पानी के विभाजन के लिए डोप की गई प्रणालियों से बेहतर
नयी दिल्ली-एक नए अध्ययन के अनुसार एक द्विधातु (बाईमेटेलिक) निकल आयरन परतदार डबल हाइड्रॉक्साइड प्रणाली पानी के विभाजन के माध्यम...
नेट-जीरो लक्ष्य हासिल करने के लिए भारत के लिए ई-मोबिलिटी आरएंडडी रोडमैप पर रिपोर्ट जारी
बिजली कर्मियों के लिए वित्त मंत्री से पुरानी पेंशन की मांग
उत्तराखंड के लिए शहरी विकास योजनाओं और विद्युत क्षेत्र के परिदृश्य की समीक्षा
कोयला मंत्रालय द्वारा तीन कोयला खदानों के लिए समझौतों पर हस्ताक्षर
46 गाड़ियों में लगाए गए सामान्य श्रेणी के 92 कोच; 22 दूसरी गाड़ियों के भी विस्तार की योजना
छत्तीसगढ़ सरकार से जल विद्युत परियोजनाओं और पंप भंडारण परियोजनाओं पर कोई उपकर नहीं लगाने का अनुरोध
फ्लाई ऐश के निपटान के लिए थर्मल पावर प्लांटों को 19 कोयला खदानें आवंटित की गईं
अरुणाचल प्रदेश में बिजली क्षेत्र की योजनाओं और परियोजनाओं की समीक्षा
कोयला खदानों की वाणिज्यिक नीलामी के 10वें दौर के लिए बोली-पूर्व बैठक आयोजित की