फ्रांस के एनेसी इंटरनेशनल एनिमेशन फेस्टिवल में भारत की रचनात्मक अर्थव्यवस्था का प्रदर्शन किया गया

फ्रांस के एनेसी इंटरनेशनल एनिमेशन फेस्टिवल में भारत की रचनात्मक अर्थव्यवस्था का प्रदर्शन किया गया

एनेसी, 14 जून, 2023: भारत इस साल पहली बार द एनेसी इंटरनेशनल एनिमेशन फेस्टिवल (एआईएएफ) में भाग ले रहा है। सूचना एवं प्रसारण  सचिव श्री अपूर्व चंद्रा के नेतृत्व में एनीमेशन उद्योग की प्रतिष्ठित हस्तियों के साथ भारतीय प्रतिनिधिमंडल एआईएएफ में वैश्विक दर्शकों के समक्ष एनीमेशन और वीएफएक्स कंटेंट तैयार करने के क्षेत्र में भारत की ताकत का प्रदर्शन कर रहा है।

भारत, हाल के वर्षों में दुनिया की प्रोडक्शन कंपनियों के लिए वीएफएक्स और एनीमेशन कंटेंट निर्माण के पसंदीदा गंतव्य के रूप में उभरा है। 2021 में अनुमान लगाया गया था कि भारत में एनीमेशन और वीएफएक्स बाजार का मूल्य लगभग 109 अरब रुपये है, जिसमें अकेले वीएफएक्स कारोबार करीब 50 अरब रुपये का है। ईएंडवाई की रिपोर्ट के अनुसार, अनुमान है कि यह आकंड़ा 2024 तक बढ़कर 180 अरब रुपये हो जाएगा। एनेसी में भारत की भागीदारी, इसलिए अधिक महत्वपूर्ण हो जाती है, क्योंकि देश अंतरराष्ट्रीय खरीदारों के सामने इस क्षेत्र से जुड़ी अपनी क्षमताओं का प्रदर्शन कर रहा है।

भारत की भागीदारी के बारे में श्री चंद्रा ने कहा, "भारत में एनिमेशन, गेमिंग, विज़ुअल इफेक्ट्स और कॉमिक्स (एवीजीसी) क्षेत्र, विश्व स्तरीय तकनीकों और अभिनव प्रौद्योगिकियों को अपनाने के साथ प्रगति कर रहा है, जिसे बेहद प्रतिभाशाली पेशेवरों का एक बड़ा समूह गति दे रहा है। भारत उन कुछ देशों में से एक है, जो भारत में एवीजीसी कंटेंट बनाने के लिए विदेशी कंपनियों को नकद प्रोत्साहन प्रदान करते हैं। भारत में फिल्मों की शूटिंग के लिए दिया जाने वाला प्रोत्साहन भी समान है। कंपनियों के लिए इससे लाभान्वित होने का यह एक बड़ा अवसर है। एक देश के रूप में, हम उद्योग को प्रोत्साहन प्रदान करने तथा भारत में प्रोडक्शन-पूर्व गतिविधियों को समर्थन देने के लिए प्रतिबद्ध हैं।"

इस फेस्टिवल में श्री चंद्रा ने एआईएएफ के निदेशक माइकल मरिन से मुलाकात की और एनेसी में भारत के जुड़ाव को मजबूत करने तथा भारत में एनीमेशन फिल्म समारोह के आयोजन के लिए भारत और फ्रांस के बीच सहयोग की संभावनाओं पर चर्चा की। श्री चंद्रा ने इंडिया पवेलियन का उद्घाटन किया, जिसे सरस्वती यंत्र की थीम पर डिजाइन किया गया है। उन्होंने भारतीय रचनात्मक समुदाय के साथ भी बातचीत की, जिन्होंने 2023 में प्रतिष्ठित एनेसी फेस्टिवल प्रतियोगिता में प्रतिभागी प्रविष्टियाँ जीती हैं। फेस्टिवल में युवा रचनाकार अरविंद जीना, निकिता प्रभुदेसाई जीना, उपमन्यु भट्टाचार्य, कल्प सांघवी के साथ सरस्वती वाणी बालगम, किरीट खुराना, बिरेन घोष, अनिल वनवारी और ऐनी दोशी जैसे उद्योग जगत के वरिष्ठ व्यक्ति उपस्थित थे।

इसके अलावा, श्री चंद्रा ने अन्य देशों के प्रतिनिधियों के साथ बातचीत की। चर्चाएँ मुख्य रूप से एवीजीसी क्षेत्र के संबंध में मंत्रालय की विभिन्न पहलों तथा भारत सरकार द्वारा इस क्षेत्र में ‘व्यापार करने में आसानी’ के लिए दिए जा रहे प्रोत्साहनों पर केंद्रित रहीं।

Related Posts

Latest News

नरेन्द्र मोदी ने तीसरी बार प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली नरेन्द्र मोदी ने तीसरी बार प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली
नई दिल्ली-एनडीए के नेता नरेन्द्र मोदी ने आज राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक समारोह में लगातार तीसरी बार भारत के...
बिजली इंजीनियरों ने भीषण गर्मी को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग की
तापीय विद्युत संयंत्रों में कोयले का भंडार 45 मीट्रिक टन से अधिक
अप्रैल 2024 में खनन क्षेत्र में वृद्धि
बीसीजीसीएल ने ओडिशा में कोयला गैसीकरण परियोजना के लिए निविदा जारी की
30 मई को 250 गीगावाट की रिकॉर्ड मांग को पूरा किया
ग्रेनाइट और संगमरमर खनन पर कार्यशाला
आरईसी ने 'सस्टेनेबिलिटी चैंपियन - एडिटर्स च्वाइस अवार्ड' जीता
पीएफसी को “सीएसआर चैंपियन अवार्ड”
एनटीपीसी ने नेशनल फिनाले पावर क्विज 2024 और मेधा प्रतियोगिता 2024 आयोजित की